ग्वालियर दुग्ध संघ ने 200 दूध सप्लाई करने वाली सोसाइटियों किया ब्लैक लिस्टेड,, दूध का दूध और पानी का पानी करने वाली मशीन ने पकड़ी चोरी…..

ग्वालियर दुग्ध संघ ने 200 दूध सप्लाई करने वाली सोसाइटियों किया ब्लैक लिस्टेड,,

दूध का दूध और पानी का पानी करने वाली मशीन ने पकड़ी चोरी…..

ग्वालियर– दूध के नाम पर सफेद जहर बनाने का काला कारोबार मुरैना और भिंड जिले में लंबे समय से चल रहा था ..अब इसकी आंच ग्वालियर में भी दिखाई देने लगी है ..और इसी तरह की एक बड़ी कार्रवाई ग्वालियर दुग्ध संघ यानी की सांची ने की है… ग्वालियर दुग्ध संघ प्रबंधन ने ग्वालियर दुग्ध संघ के बानमोर स्थित प्लांट पर मुरैना भिंड की दूध सप्लाई करने वाली 200 सोसायटीओं को दुग्ध संघ में ब्लैक लिस्ट कर दिया है..

. यह बड़ी कार्रवाई भिंड और मुरैना जिले में नकली दूध बनाने वालों के ठिकानों पर एसटीएफ की छापामार कार्रवाई के बाद हुए पर्दाफाश के बाद किया गया है… खास बात यह है कि ग्वालियर दुग्ध संघ यानि कि सांची ग्वालियर में अपने 45000 ग्राहकों को हर दिन 30000 लीटर दूध की सप्लाई करता है ..

लेकिन सांची ने मुरैना भिंड की 200 ऐसी सोसायटी ओं को अपने यहां ब्लैक लिस्टेड किया है जो दूध की सप्लाई करती हैं.. असल में इन सोसायटीओं को वैन किए जाने के पीछे सिंथेटिक दूध की सप्लाई होना बताया जा रहा है…
-के के श्रीवास्तव–फील्ड ऑफीसर–ग्वालियर दुग्ध संघ..

…सोसायटीओं द्वारा दिए गए नकली दूध को सांची की मिल्क स्कैन मशीन ने पकड़ा है.. जिसे लाखों रुपए की लागत से बानमोर प्लांट में लगाया गया था ।।मशीन का अलार्म बजते ही दूध को नष्ट किया जाता है …

.गौरतलब है कि सांची के सीईओ ने भिंड मुरैना की सोसाइटियों को वैन कर रखा है ..आपको बता दें कि सांची के प्लांट में लगाई गई मशीन इतनी बारीकी से परीक्षण करती है कि पॉइंट में घटने बढ़ने वाली प्रोटीन की मात्रा का हिसाब भी सामने आ जाता है ..इससे एक्सपर्ट समझ जाते हैं कि दूध मिलावटी व सिंथेटिक है ..यही कारण है कि दूध सप्लाई करने वाली कई फर्म साची को दूध सप्लाई नहीं करती हैं ..ऐसे में कहा जा सकता है कि ये मशीन दूध का दूध और पानी का पानी कर देती है .

0Shares

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *